आठ देशों स‎हित भारत को भी लगेगा बड़ा झटका, ट्रंप

42 views

नई दिल्ली (न्यूज़ नेस्ट)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप के फैसलों से भारत की परेशानियां बढ़ रही हैं। ट्रंप प्रशासन ने इस सप्ताह ऐलान किया कि अब वह आगे ईरान से तेल आयात को लेकर किसी भी देश को कई छूट नहीं देगा। अमेरिका ने ईरान से तेल आयात पर प्रतिबंध लगाने के बाद भारत समेत आइ देशों को दी गई 2 मई तक की छूट को आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया है। अमेरिका के इस कदम के बाद से तेल की वैश्विक कीमतों में बढ़ोतरी होना तय माना जा रहा है जिससे सबसे ज्यादा भारतीय प्रभावित हो सकते हैं। कांग्रेस पार्टी ने भी ईरान प्रतिबंध पर अमेरिकी फैसले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट में कहा ‎कि देश की तेल जरूरतों और सुरक्षा के मुद्दे पर मूक दर्शक बने बैठे हैं।
ट्रंप प्रशासन ईरान के राजस्व के प्रमुख रास्ते को बंद कर देना चाहता है ताकि ईरान को आतंक और परमाणु कार्यक्रम के मुद्दे पर झुकने पर मजबूर किया जा सके। भारत दुनिया का तीसरा सबसे तेल आयातक देश है। एक भारतीय अधिकारी ने कहा कि भारत ने ईरान से कुल तेल आयात में करीब 17 फीसदी की कटौती की है। दूसरी तरफ ट्रंप के वेनेजुएला से वामपंथी राष्ट्रपति निकोलस मदुरो को सत्ता से बाहर निकालने के दबाव के बीच इस देश से भी तेल खरीदारी रोक दी है। अधिकारी ने बताया ‎कि हमने ऐसा इसलिए नहीं किया क्योंकि हम यूएस से सहमत थे बल्कि इसलिए कि हम रणनीतिक साझेदार हैं। ट्रंप प्रशासन के विकासशील देशों को दिए गए एक खास दर्जे को छीनने का ऐलान किया तो नई दिल्ली ने ट्रंप प्रशासन को विस्तार से एक प्रस्ताव भेजा था लेकिन उसे नजरअंदाज कर दिया गया।

Share.

About Author

Pankaj Tyagi

Leave A Reply